Home You are here : path About Us path Profile path Profile

Image हमारे बारे में

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के बारे में

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया देश के प्रमुख सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में से एक है. हमारा बैंक एक सूचीबद्ध इकाई है और बैंक के कुल शेयर पूँजी में भारत सरकार की 83.50 प्रतिशत हिस्सेदारी है. हमारा बैंक, जिसका मुख्यालय मुबंई (भारत) में है, का पंजीकरण 11 नवंबर, 1919 में एक लिमिटेड कंपनी के रुप में हुआ था. हाल ही में, आंध्रा बैंक और कॉर्पोरेशन बैंक को 01.04.2020 से यूनियन बैंक ऑफ इंडिया मे समामेलित किया गया है. वर्तमान में, हमारे पास 8850+ देशीय शाखाएं, + 11200+ एटीएम, 8216 बीसी पॉइन्ट का नेटवर्क है एवं 75000+ कर्मचारियों के सहयोग से हम 120 मिलियन ग्राहकों को सेवा प्रदान कर रहे हैं. 30 जून 2022 तक बैंक का कुल कारोबार रु. 17,21,409 करोड़ रहा, जिसमें रु. 9,92,774 करोड़ जमाराशि और रु. 7,28,635 करोड़ के अग्रिम शामिल है. हमारे बैंक की विदेश में 3 शाखाएं हांग कांग, दुबई अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय केंद्र (यूएई) एवं सिडनी (ऑस्ट्रेलिया); अबु धाबी (यूएई) में 1 प्रतिनिधि कार्यालय; लंदन [यूके] में 1 बैंकिंग सहायक कंपनी, मलेशिया में 1 बैंकिंग संयुक्त उद्यम; 4 पैराबैंकिंग सहायक कंपनियाँ [देशी]; 3 संयुक्त उद्यम (जीवन बीमा कारोबार में 2 सहित) एवं 1 सहयोगी-चैतन्य गोदावरी ग्रामीण बैंक है. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया 100% कोर बैंकिंग सोल्यूशन को कार्यान्वित कराने वाला देश का पहला सबसे बड़ा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है. बैंक को तकनीक, डिजिटल बैंकिंग, वित्तीय समावेशन, एमएसएमई एवं मानव संसाधन के विकास में कौशल के लिए कई पुरस्कार एवं सम्मान प्राप्त हुए हैं

कॉर्पोरेट एवं पंजीकृत कार्यालय :

cro

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया का पंजीकृत एवं कॉर्पोरेट मुख्यालय भारत की वाणिज्यिक राजधानी, मुबंई के प्रतिष्ठित नरीमन पॉइंट में स्थित है.

पूर्ण पता 

यूनियन बैंक भवन, 239, विधान भवन मार्ग, नरीमन पॉइंट, मुंबई- 
400 021, महाराष्ट्र, भारत

दूरभाष संख्या [बोर्ड]

+91 22-22892000

बैंक की वेबसाइट

www.unionbankofindia.co.in

इंटरनेट बैंकिंग साइट

www.unionbankonline.co.in

कॉल सेंटर 24x7

अखिल भारतीय टोल फ्री नंबर : 1800 22 22 44 / 1800 208 2244 /
18004251515
चार्ज्ड नंबर  : 080-25300175 
एनआरआई के लिए संपर्क नंबर  : +918061817110

निदेशक मण्डल :

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के निदेशक मण्डल में अर्थव्यवस्था, ग्रामीण एवं कृषि क्षेत्र, बैंकिंग एवं वित्तीय सेवाएँ, वाणिज्य एवं लेखा,कार्यनीति,कारोबार विकास, एनालिटिक्स, जोखिम प्रबंधन, केन्द्रीय बैंकिंग, विलय एवं अधिग्रहण जैसे क्षेत्रों में व्यापक अनुभव प्राप्त प्रतिष्ठित व्यक्ति शामिल है.

निदेशक मण्डल का लिंक

लिंक : कॉर्पोरेट कार्यालय के सभी वरिष्ठ कार्यपालकों का ब्यौरा

संपर्क करें :

शाखा लोकेटर का लिंक

पूंजीगत ढांचा :

बैंक ने रु.10,000 करोड़ की शेयर पूंजी प्राधिकृत की है. यथा 30 जून, 2022, बैंक ने रु.6834.75 करोड़ के इक्विटी पूंजी को जारी, अभिदत्त और प्रदत किया है जिसमें प्रति रु.10/- के 6,83,47,47,466 इक्विटी शेयर शामिल है. बैंक के शेयर नेशनल स्टॉक एक्स्चेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड एवं बीएसई लिमिटेड में सूचीबद्ध हैं.

सोशल मीडिया कनेक्ट :

इतिहास :

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की स्थापना 11 नवंबर 1919 को हुई व इसका मुख्यालय मुंबई में है. इसे सेठ सीताराम पोद्दार ने पहचान दिलायी.

बैंक के प्रधान कार्यालय का उद्घाटन मुंबई में वर्ष 1921 में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के कर-कमलों से संपन्न हुआ एवं इस अवसर पर उन्होंने कहा कि – 

"हमारी राष्ट्रीय गतिविधियों में दक्षता के साथ करोड़ों रुपयों के प्रबंधन के लिए एक बड़े बैंक को चलाने की योग्यता होनी चाहिए. यद्यपि हमारे पास ज्यादा संख्या में बैंक नहीं हैं, परंतु इसका यह अर्थ कदापि नहीं है कि हम दक्षता के साथ करोड़ों रुपयों के प्रबंधन की योग्यता नहीं रखते हैं”. उनके भविष्यदर्शी शब्दों ने उस बैंक की वृद्धि का अनुमान लगाया जो दशकों बाद सच साबित हुआ.

ubi-old
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया– सर्वप्रथम लोगो
ubi-old1
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया का पुराना लोगो
logo-new-ubi
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया का लोगो
merge-ubi-andh
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया का लोगो – समामेलन के पश्चात

लोगो :

लोगो में लाल एवं नीले रंग में संबद्ध दो यू को दर्शाया गया है, जो ग्राहक एवं बैंक को प्रदर्शित करता है. दो यू एकता एवं अखंडता, सुरक्षा एवं बल को दर्शाते हैं जिसके लिए यूनियन बैंक ऑफ इंडिया प्रतिबद्ध है. नीला रंग प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है, जबकि लाल रंग यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के जोश का प्रतीक है.

टैगलाइन : Good people to bank with

                                                        अच्छे लोग अच्छा बैंक

क्या आप जानते हैं :

  • 22 अप्रैल 1939 को औपचारिक रूप से बैंक के प्रथम सुरक्षित जमा कक्ष का शुभारंभ.
  • वर्ष 1947 में स्वतंत्रता के समय यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की 4 शाखाएँ थीं.
  • वर्ष 1964 में, केरल में इरिनजालकुडा में बैंक की 100वीं शाखा खोली गयी. 3 निजी क्षेत्र के बैंक पेरुम्बवूर बैंक लिमिटेड, कॅथलिक यूनियन बैंक लिमिटेड, नादर मर्कंन्टाइल बैंक लिमिटेड को अधिगृहीत किया.
  • वर्ष 1969 में जब बैंक राष्ट्रीयकृत बैंक बना तब श्री एफ़.के.एफ़.नरीमन इसके प्रथम अभिरक्षक बने.
  • वर्ष 1974 में बैंक ने ग्रामीण विकास में सहायता प्रदान करने हेतु 8 अग्रणी जिले – उत्तर प्रदेश में 4, केरल में 2 एवं मध्य प्रदेश में 2 आबंटित किए.
  • वर्ष 1975 में यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने बेलगाँव बैंक लिमिटेड, एक निजी क्षेत्र के बैंक का अधिग्रहण किया एवं 40 शाखाओं की वृद्धि हुई.
  • वर्ष 1978 में यूनियन बैंक हिन्दी में वार्षिक रिपोर्ट प्रकाशित करने वाला प्रथम राष्ट्रीयकृत बैंक था.
  • बैंक ने वर्ष 1979-80 के दौरान उत्कृष्ट निर्यात कार्यनिष्पादन के लिए भारत के राष्ट्रपति से सरकार का 1982 में राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त किया.
  • वर्ष 1993 से 1996 तक पोस्ट रिफॉर्म युग के दौरान बैंक का कारोबार दुगुना हुआ.
  • वर्ष 1999 में 8 शाखाओं सहित सिक्किम बैंक लिमिटेड का हमारे बैंक में विलय हुआ.
  • वर्ष 2002 में 18 करोड़ के सार्वजनिक निर्गम शेयर 22 गुणा अति अभिदत्त हुए. शेयर बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज एवं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध हुआ.
  • वर्ष 2003 में बैंक सार्वजनिक क्षेत्रों के बैंकों में कभी भी एवं कहीं भी बैंकिंग के साथ टेलीबैंकिंग करने वाला प्रथम बैंक बन गया.
  • वर्ष 2004 में विश्व की सबसे बड़ी एवं सर्वाधिक शक्तिशाली कंपनियों की फोर्ब्स 2000 सूची में 7 नए प्रवेशकों में एक हमारा बैंक था.
  • वर्ष 2007 में बैंक ने देश भर में एक ही दिन में 56 नयी शाखाओं की शुरुआत करने का रिकॉर्ड बनाया. बैंक ने अपनी पहली बायो-मैट्रिक एटीएम की शुरुआत की. बैंक ने सेरेथांग, नाथुला, सिक्किम में भारत की सबसे अधिक 14300 फीट की ऊंचाई पर अपने पहले बायो-मैट्रिक एटीएम की शुरुआत की.
  • वर्ष 2008 में बैंक 100% सीबीएस नेटवर्किंग प्राप्त करने वाला पहला बड़ा राष्ट्रीकृत बैंक बन गया. बैंक ने नए लोगो का अनावरण किया एवं रि-ब्रैंडिंग पहल की शुरुआत की. वर्ष 2008 में यू-मोबाइल का प्रारंभ कर मोबाइल बैंकिंग सुविधा प्रारंभ करने वाला पहला बैंक बन गया.
  • 100% सीबीएस कनेक्टिविटी प्राप्त करने के लिए वर्ष 2009 में बैंक द्वारा प्रायोजित रीवा सिद्धि ग्रामीण बैंक देश का पहला आरआरबी बन गया है.
  • वर्ष 2012 में बैंक ने विशेषतः नेत्रहीनों के लिए बोलने वाला प्रथम एटीएम की शुरुआत की.
  • वर्ष 2013 में बैंक ने अपने स्थापना दिवस 11.2013 के अवसर पर 111 शाखाओं की शुरुआत करके रिकॉर्ड बनाया.
  • वर्ष 2014 में बैंक ने अपने स्थापना दिवस 11.2014 के अवसर पर 96 शाखाओं की शुरुआत की.
  • वर्ष 2015 में बैंक ने लंदन में यूके सहायक कंपनी की शुरुआत की. 

समामेलन :

अगस्त 2019 में आंध्रा बैंक एवं कॉर्पोरेशन बैंक का यूनियन बैंक में समामेलन के लिए भारत सरकार ने यूनियन बैंक ऑफ इंडिया को एक एंकर बैंक के रूप में चयनित किया. दिनांक 01 अप्रैल, 2020 को समामेलन किया गया. 300 से अधिक वर्षों से ग्राहकों को प्रदत्त उत्कृष्ट ग्राहक सेवा एवं विश्वास के कारण ही हमारे प्रति ग्राहकों का विश्वास पुख्ता हुआ है. इस समामेलन से भारत के प्रत्येक राज्य में फैले शाखाओं के व्यापक नेटवर्क के माध्यम से हम उत्तम श्रेणी के उत्पाद प्रदान कर पाएंगे.

कोर परिचालन में तकनीकी :

प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में बैंक ने अनेक पहल कार्यान्वित किए हैं एवं अपनी शाखाओं के 100% कंप्यूटरीकरण के लिए प्रथम सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक होने का गौरव प्राप्त किया है. हमारे पास 100 से अधिक इन-हाउस एप्लिकेशन का प्रबंध करने के लिए पूरी तरह से सुसज्जित पेशेवरों की समर्पित टीम है. तकनीकी प्लैटफॉर्म के उपयोग द्वारा अनेक नवोन्मेषी उत्पाद विकसित किए गए हैं ताकि ग्राहकों के पास अनेक विकल्प उपलब्ध हों जिससे सहज एवं त्वरित लेनदेन सुनिश्चित कर सकें. तकनीकी की सहायता से बैंक ने लागत को पर्याप्त रुप से कम किया एवं लगातार बढ़ते कारोबार को वहन करने की क्षमता विकसित की है.

ऐप डाउनलोड APP

app-ss

app-ss-1

play-store android-app

ऊर्जावान एवं प्रतिबद्ध कार्यबल :

इन सभी उपलब्धियों के पीछे स्टाफ की एक समर्पित टीम है, जो वास्तव में अपनी संरचना में सार्वभौमिक है. बैंक के सशक्त ढांचे के निर्माण में स्टाफ सदस्यों की कई पीढ़ियों ने योगदान दिया है. 75000+ से अधिक स्टाफ सदस्यों की वर्तमान टीम अपनी ग्राहक केन्द्रीयता, सीखने की इच्छा एवं मूल्यों का पालन करने वाली संवेदनशील संस्था के रुप में पहचानी जाती है जहां लोग आंनद के साथ अपना कार्य करते हैं एवं ग्राहकों के साथ सौहार्द संबंध बनाते हैं.

निवेशक संबंध :

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के वित्तीय कार्य-निष्पादन, कारोबारी पहलों के विषय में सभी नवीनतम गहन जानकारी.

निवेशक संबंधों के लिए लिंक

भर्ती :

भारत के शीर्ष 5 सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में से एक बैंक में भर्ती की शुरुआत से संबंधित सभी जानकारी.

भर्ती से संबंधित लिंक

कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व :

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया राष्ट्रीय स्तर पर सामाजिक एवं आर्थिक विकास के लिए संबद्ध है. बैंक विभिन्न क्षेत्रों एवं सामाजिक कल्याण के कार्यक्रमों में यूनियन बैंक सोशल फ़ाउंडेशन ट्रस्ट के साथ मिलकर कार्य कर रहा है.

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की सीएसआर पॉलिसी

लिंक: यूनियन बैंक सोशल फाउंडेशन ट्रस्ट गतिविधियाँ

ईएसजी गतिविधियां :

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की नवीनतम ईएसजी गतिविधियों पर और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए कृपया निम्नलिखित दस्तावेज़ को डाउनलोड करें.

ईएसजी पहल

union

union

  • Rewarded

    Rewarded

    Earn reward points on transactions made at POS and e-commerce outlets

  • Book your locker

    Book your locker

    Deposit lockers are available to keep your valuables in a stringent and safe environment

  • Financial Advice?

    Financial Advice?

    Connect to our financial advisors to seek assistance and meet set financial goals.

  • ATM & Branch Network

    ATM & Branch Network

    Find ubi Branches and ATMs in proximity to your location.