Union Bank of India- Products

Search

Home You are here : path Products path Personal path Mortgage loan

union यूनियन मॉर्गेज

विशेषताएं

उद्देश्य
जीवन में हमें ऐसी परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है जब हम कुछ खर्चों से बच नहीं सकते और इनमें विभिन्न आवश्यकताओं जैसे कि विवाह, उच्च शिक्षा, आपातकालीन चिकित्सा, कारोबारी यात्राएं या किन्हीं अन्य अचानक खर्चों से संबंधित निजी व्यय शामिल हैं. अन्य बैंक से लिए गए उच्च ब्याज दर पर विद्यमान मॉर्टगेज ऋण की चुकौती॰ जीवन यूनियन मॉर्टगेज ऐसी ही आवश्यकताओं के लिए समाधान है, जिसमें आप जायदाद के पेटे ऋण प्राप्त कर सकते हैं और ऐसे खर्चों को पूरा कर सकते हैं.
पात्रता
यूनियन मॉर्टगेज” का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको निम्न मानक पूरे करना आवश्यक है :
  • भारतीय नागरिक जिसके पास गैर कृषि ( आवासीय / वाणिज्यिक / औद्योगिक) प्रॉपर्टी है.
  • न्यूनतम आयु 18 वर्ष और अधिकतम आयु 70 वर्ष.
  • आवेदक और सह आवेदक आयकर रिटर्न भर रहे हो
  • आप एकल रूप में या परिवार के अन्य, सदस्यों जैसे कि पिता, माता, पुत्र, अविवाहित पुत्री और/अथवा पति/पत्नी जिनके आय के नियमित स्रोत हों, को सह-आवेदक बनाकर संयुक्त् रूप से ऋण प्राप्त कर सकते हैं
  • प्रॉपर्टी के सभी मालिक सह आवेदक के रुप में हो.
  • सहोदर ,यथा भाई बहन, भाई –भाई, बहन –बहन आवेदक /सह आवेदक के रूप में अनुमत है बशर्तेंकि संपत्ति में सभी भाई बहन का नाम संयुक्त रूप से शामिल हो.
  • भागिदारी फर्म और प्रोप्रायटरी संस्था.
  • अनिवासी भारतीय भी मॉर्टगेज ऋण के लिये पात्र है.
ऋण की मात्रा
  • न्यूनतम रु. 5 लाख
  • अधिकतम
भारतीय निवासी किसान अनिवासी भारतीय
रु. 10 करोड़ रु. 1 करोड़ रु. 5 करोड़

मार्जिन
  • नवीनतम मूल्यांकन रिपोर्ट के अनुसार मॉर्टगेज प्रॉपर्टी के बाजार मूल्य का 50 %. मूल्यांकन रिपोर्ट बैंक द्वारा अनुमोदित मूल्यांकनकर्ता द्वारा तैयार की गयी हो जो मंजूरी के समयछह माह से अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिए.
  • ऋण अवधि के दौरान ऋणी(‍ऋणियों) के व्यय पर तीन वर्ष में एक बार नवीन मूल्यांकन आवश्यक है
सुविधा
  • वेतनभोगी व्यक्तियों के लिए मीयादी ऋण सुविधा उपलब्ध है.
  • गैर वेतनभोगी व्यक्तियों के लिए मीयादी ऋण और प्रतिभूत ओवरड्राफ्ट की सुविधा उपलब्ध है.
चुकौती
  • मियादी ऋण: निम्नलिखित तीनों मदों में से, अधिकतम चुकौती अवधि वह होगी, जो सबसे पहले हो.
  • 12 साल (144 महीने)
  • अवशिष्ट अवधि उधारकर्ता के अधिकतम 70 वर्ष की आयु तक पहुँचने तक.
  • संपत्ति की अवशिष्ट अवधि से पाँच वर्ष पहले.
  • चुकौती अवधि से संबंधित मानदंड उन व्यक्तियों पर लागू होंगे, जिनकी आय चुकौती के उद्देश्य से मनी जा रही है.
  • एस ओ डी सीमा ऋणी के 70 वर्ष की आयु प्राप्त करने के 5 वर्ष पहले से, वास्तविक मंजूरी सीमा का पांचवा भाग से प्रतिवर्ष कम की जाएगी, जिससे ऋणी की 70 वर्ष की आयु होने तक पूरी रिन राशि को चुकता किया जाना सुनिश्चित किया जा सके. यदि एस ओ डी सुविधा स्वीकृत करते समय अवशिष्ट अवधि 5 वर्ष से कमहो, तो इसे आनुपातिक आधार पर प्रतिवर्ष समायोजित किया जाएगा.
  • कोई अधिग्रहण अवधि नहीं है.
पूर्व भुगतान दंड
  • कोई पूर्व भुगतान दंड नहीं वसूल किया जाएगा, यदि रिन का समायोजन ऋणी के अपने ज्ञात स्रोतों से प्राप्त राशि से किया गया हो.
  • यदि ऋणी का समायोजन किसी अन्य बैंक/वित्तीय संस्थान द्वारा टेकओवर से या किसी तृतीय पक्ष/पार्टी (वाजिब बिक्री को छोडकर) से प्राप्त राशि से एकमुश्त किया जाता है, तो पिक्षले 12 माह के औसत शेष के 2% तक का दंड वसूल किया जाएगा.
ब्याज दरें और प्रोसेसिंग शुल्क
  • हमारी नवीनतम ब्याज दर की जानकारी के लिए कृपया यहां क्लिक करें.
  • प्रोसेसिंग शुल्क ऋण राशि का 0.50%. एवं लागू सेवा शुल्क
  • जहां लागू हो, वास्तविक मूल्यांकन / लीगल / स्टैम्प ड्यूटी / सरसाई / ज्ञापन पंजीकरण प्रभार.
समयपूर्व भुगतान दण्ड
  • यदि ऋणी द्वारा ऋण की चुकौती उसके स्वयं के सत्यापन योग्य वैध स्रोतों से की जाती है तो कोई समयपूर्व भुगतान दण्ड नहीं होगा.
  • यदि किसी अन्य बैंक/वित्तीय संस्थान द्वारा ऋण टेक ओवर किया जाता है या ऋणी द्वारा किसी तीसरे स्रोत/पक्ष के माध्यम से एक बार में चुकता कर दिया जाता है(वास्तविक बिक्री को छोड़कर) तो पूर्ववर्ती 12 महीनों की औसत शेषराशि का 2 प्रतिशत, दण्ड के रूप में देय होगा.
प्रतिभूति
  • गैर कृषि (आवासीय/वाणिज्यिक) सम्पत्ति का साम्यिक बंधक जो ऋणी के नाम हो.
  • पट्टे पर ली गयी केवल उन्हीं सम्पत्तियों को प्रतिभूति के तौर पर माना जा सकता है जो कि नगर विकास प्राधिकारी, जैसे कि डीडीए, हुडा, हुड़को, एलडीए आदि आवश्यक से पट्टे पर ली गई हों, बशर्तें कि अनुमति/एनओसी/त्रिपक्षीय समझौता जैसा कि मोर्टगेज निर्मित करने के लिए वांछित है.
  • खुले प्लाट को भी प्रतिभूति माना जा सकता है जिनका अच्छी तरह से सीमांकन कर दिया गया है और उधारकर्ता द्वारा नगर विकास प्राधिकारी जैसे कि डीडीए, हुडा, हुड्को, एलडीए आदि से प्राप्त कर लिया गया है.
  • संपत्ति के सभी सह मालिकों को सह-आवेदक बनना होगा.
गारंटी
  • भारतीय नागरिक के लिए तृतीय पक्ष गारंटी अनिवार्य नहीं है. अनिवासी भारतीय के मामले में स्थानिक भारतीय की गारंटी आवश्यक है.
बीमा
  • सम्पत्ति का बीमा कम से कम संपत्ति मूल्य के अनुरूप होना अनिवार्य है, जिसमें बैंक क्लाज के साथ सभी जोखिम कवर शामिल हों.
**शर्तें लागू
अधिक जानकारी के लिए, कृपया हमारी निकटतम शाखा में सम्पर्क करें.

प्रपत्र तथा दस्तावेज

अक्सर पुछे जाने वाले प्रश्न:


union

union

  • Rewarded

    Rewarded

    Earn reward points on transactions made at POS and e-commerce outlets

  • Book your locker

    Book your locker

    Deposit lockers are available to keep your valuables in a stringent and safe environment

  • Financial Advice?

    Financial Advice?

    Connect to our financial advisors to seek assistance and meet set financial goals.

  • ATM & Branch Network

    ATM & Branch Network

    Find ubi Branches and ATMs in proximity to your location.